Madhyapradesh

भोपाल रेलवे एफओबी हादसे पर अधिकारी ने कहा: यह हमारी गलती

भोपाल, 13 फरवरी (भाषा) पश्चिम-मध्य रेलवे के अतिरिक्त महाप्रबंधक शोभन चौधरी ने भोपाल रेलवे स्टेशन पर गुरुवार सुबह को हुए रेलवे फुट ओवर ब्रिज हादसे पर स्पष्ट तौर पर स्वीकार किया कि यह रेलवे की गलती है। भोपाल में गुरुवार सुबह को रेलवे के एफओबी का एक हिस्सा गिर जाने से 10 लोग घायल हो गए। घायलों को निजी और सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। हादसे की सूचना के बाद पश्चिम-मध्य रेलवे के जबलपुर मुख्यालय से तुरंत रवाना होकर भोपाल आए चौधरी ने पीटीआई से इस हादसे के बारे में कहा कि ‘‘निसंदेह यह रेलवे की गलती है, हमारी गलती है और हमारी ढिलाई है।’’ उन्होंने चिरायु अस्पताल में घायलों से मुलाकात करने के बाद बताया कि हादसे में 10 लोग घायल हुए हैं। इनमें से सात लोगों को फ्रेक्चर हुआ है जबकि दो घायलों का अस्पताल के आईसीयू में उपचार किया जा रहा है। उन्होंने डॉक्टरों के हवाले से बताया कि सभी घायलों की हालत खतरे से बाहर है। चौधरी ने बताया कि घायलों की सहायता व उचित मार्गदर्शन के लिए उनके दल में विशेषज्ञ डॉक्टर भी आए हैं। उन्होंने बताया कि पश्चिम-मध्य रेलवे जबलपुर मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारी एक-दो दिन में इस हादसे की जांच शुरु करेंगे। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि सुबह लगभग 9 बजे भोपाल रेलवे स्टेशन पर प्लेटफॉर्म 2 और 3 को जोड़ने वाले रेलवे एफओबी के रैंप का एक हिस्सा गिर गया। इससे दस लोग घायल हो गए। इस बीच, पश्चिम मध्य रेलवे की मुख्य जनसंपर्क अधिकारी प्रियंका दीक्षित ने कहा कि रेलवे बोर्ड के दिशानिदेर्शो के मुताबिक हताहतों को मुआवजा राशि दी गई है। इसके साथ ही घायलों के इलाज में अस्पताल में होने वाले सभी खर्च भी रेलवे उठाएगा। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस हादसे पर दुख: व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ‘‘भोपाल रेलवे स्टेशन पर एक फुटओवर ब्रिज के एक हिस्से के गिरने से हुआ हादसा बेहद दुःखद। इस हादसे में कुछ लोगों के घायल होने की जानकारी मिली है। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की ईश्वर से कामना। प्रशासन को घायलों के समुचित इलाज व हरसंभव मदद के निर्देश दिए।’’ प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने प्रदेश सरकार की ओर से इस हादसे में गंभीर रुप से घायलों को 50-50 हजार रुपये तथा सामान्य घायलों को 10-10 हजार रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की।

Source: Madhyapradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *